Wednesday, June 7, 2023
HomeUncategorizedसचिव और ग्राम प्रधान दूसरे का घर दिखाकर गरीब विधवा का काट...

सचिव और ग्राम प्रधान दूसरे का घर दिखाकर गरीब विधवा का काट दिया आवास, बीडीओ को मलाई खाने से फुर्सत नही।

spot_img

सोमवार 27 मार्च। घुघली विकास खण्ड हमेशा से ही भ्रष्टाचार के मामले में जिला में टॉप पर रहता है. जो एक बार फिर जिम्मेदारों के काले कारनामे के कारण सुर्खियों में आया है. घुघली के पकड़ी विशुनपुर में एक बेहद ही गरीब विधवा महिला अमरावती देवी का आवास योजना में नाम आया था लेकिन ग्राम प्रधान और सचिव दोनों ने मिलकर उसके भसुर के घर के सामने खड़ा कर फोटो खींचकर उस गरीब विधवा महिला को अपात्र घोषित कर दिया. महिला का कहना है कि सरकार के तरफ से मुझे आवास मिला था लेकिन ग्राम प्रधान और सचिव इन दोनों लोगों ने मिलकर मेरा आवास काट दिया.महिला ने बताया कि मेरे पति के स्वर्गवास को तकरीबन छः वर्ष हो गए हैं ऐसे में मैं मजदूरी करती हूं तो शाम को भोजन मिलता है लेकिन उसके बावजूद मेरे सर से छत को छीन लिया गया. महिला ने बताया कि ग्राम प्रधान और सचिव दोनों लोग मेरे घर पर आए उसके बाद प्रधान आधार कार्ड मांगने लगे और मुझे मेरे भसुर के घर के सामने खड़ा कराकर दोनों लोग फोटो खींचने लगे. जिसके बाद मैंने कहा कि यह मेरा घर नहीं है आप लोग यहां क्यों फोटो खींच रहे हैं मेरे झोपड़ी के पास फोटो लीजिए. जिस पर ग्राम प्रधान ने कहा कि घबराओ नहीं इससे कुछ नहीं होगा फोटो खिंचवा लो . मेरा फोटो खींचने के बाद वो लोग चले गए बाद में मुझे पता चला कि मेरे भसुर के घर को मेरा घर बताकर आवास से मेरा नाम काट दिया गया है. जिसके बाद मैं बहुत कोशिश की लेकिन ग्राम प्रधान और सचिव दोनों लोग सुनने को तैयार नहीं है. मै दर दर भटक रही हूं लेकिन कोई भी मेरी मदद नहीं कर रहा है. इतना ही नहीं इस महिला के घर अब तक शौचालय नहीं बन पाया है जिसके जिम्मेदार ग्राम प्रधान और कुछ भ्रष्ट अधिकारी ही हैं. अपने दो बेटे एक बहु और एक बेटी केे साथ यह महिला 10×10 के झोपड़ी में रहती है और वह झोपड़ी भी टूट चुकी है बारिश आने पर सारा पानी उसके झोपड़ी के अंदर ही जाएगी लेकिन अधिकारी मलाई खाने में व्यस्त है किसी को दिखाई नही दे रहा है. बात करें खण्ड विकास अधिकारी की तो यह केवल बड़ी बड़ी बातें करना जानते है किसी भी भ्रष्टाचारी के खिलाफ कार्यवाही करने में इनकी कलम की स्याही रुक जाती है. आए दिन घुघली में भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे हैं लेकिन किसी भी मामले में बीडीओ द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है ऐसे में बीडीओ घुघली के ऊपर बहुत बड़ा प्रश्नचिन्ह खड़ा होता है कि अगर आप ईमानदार है तो कार्यवाही कीजिए और अगर चोर चोर मौसेरे भाई के कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं तो कोई कार्यवाही नहीं करेंगे. वहीं जिला के ईमानदार अधिकारी ऐसे भ्रष्टाचारियों पर क्या कार्यवाही करेंगे ये तो आने वाला समय बताएगा. लेकिन घुघली की वर्तमान स्थिति यह बयां कर रही है कि यहां पूरी तरह से जंगल राज कायम है अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे है गरीबों का दर्द सुनने वाला कोई नहीं है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments