Wednesday, June 7, 2023
HomeUncategorizedनौतनवा सीओ ने अप्राकृतिक यौन शौषण के गंभीर मामले का महज चार...

नौतनवा सीओ ने अप्राकृतिक यौन शौषण के गंभीर मामले का महज चार दिन में किया निस्तारण

spot_img

नौतनवा / महराजगंज

महराजगंज जनपद का सबसे अंतिम छोर पर बसा नौतनवा जहां पर आए दिन अपराध के मामले देखने को मिलते हैं.यह क्षेत्र नेपाल सीमा से लगा हुआ है जिसके कारण यहां अपराध के मामले ज्यादा आते हैं और पुलिस को हमेशा ही अलर्ट पर रहना पड़ता है. नौतनवा कस्बे से एक ऐसा ही मामला 16 मई को सामने आया जिसमें एक महिला ने तहरीर देकर पुलिस को सूचना दिया कि उसके 5 वर्ष के नाबालिग बच्चे के साथ एक 13 वर्ष का बाल अपचारी द्वारा घर में घुसकर अप्राकृतिक दुष्कर्म किया गया है. सूचना मिलने के बाद जांच के उपरांत थाना नौतनवा में मु.अ.स. 149 / 2023 धारा 377 / 452 / 504 भादवि 5ए / 6 पोक्सो व 3(2) 5 एससी / एसटी एक्ट 13 वर्षीय बाल अपचारी के विरुद्ध दर्ज हुआ. जिसकी विवेचना क्षेत्राधिकारी नौतनवा अजय सिंह चौहान द्वारा सम्पादित की गई. अभियोग दर्ज होने के बाद विवेचक क्षेत्राधिकारी नौतनवा अजय सिंह चौहान द्वारा अनवरत विवेचना की गई परिणाम मात्र चार दिन में ही मामले का निस्तारण कर दिया गया जबकि ऐसे मामले के निस्तारण की अवधि 60 दिन की होती है लेकिन अजय सिंह चौहान ने विवेचना में पीड़ित, वादिनी अन्य गवाहों तथा वैज्ञानिक विधियों से साक्ष्यों का संकलन कर महज 4 दिन में ही मामले का निस्तारण कर दिया.अजय सिंह के बारे में बता दें तो वहा इससे पूर्व क्षेत्राधिकारी सदर रह चुके हैं और सदर क्षेत्राधिकारी रहते वह तमाम उलझे मामले का निस्तारण किए थे. विवेचना के बाद पुलिस ने बाल अपचारी को नियमानुसार अपने कब्जे में लेकर किशोर न्याय बोर्ड महराजगंज के समक्ष पेश कर उसके बाद बाल गृह सुधार केंद्र गोरखपुर भेज दिया गया.क्षेत्राधिकारी नौतनवा अजय सिंह चौहान ने अप्राकृतिक दुष्कर्म और एसी/एसटी के मामले को महज चार दिन में किया निस्तारण

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments